विधायक चन्द्रकांता ने सुनाया दुखड़ा, वर्दीधारी एसएचओं को थप्पड़ मारके बुरे फंसे पति-पत्नि

0
3914

कोटा। सत्ता के नशे चूर होकर खाकी पर अपना रौब झाड़ने वाले विधायक दंपति आज अगले-बगले झाक रहें हैं। हाड़ौती में सत्तापक्ष की मजबूत नेता के रूप में उभरी कोटा जिले की रामगंजमण्डी विधानसभा से बीजेपी विधायक चंद्रकांता मेघवाल का नाम एक बार फिर विवादों में हैं।

गौरतलब हैं की फरवरी माह 2018 में बीजेपी कार्यकतार्ओं से मारपीट को लेकर नाराज़ विधायक के पति ने तत्कालीन थानाधिकारी श्रीराम के थप्पड़ जड़ दिया था जिस मामले में सीआईडी सीबी ने अपनी जांच पूरी कर ली है। विधायक व पुलिस की तरफ से दर्ज दो क्राॅस केस में सीआईडी ने विधायक के मामले में तथ्य नहीं मिलने पर एफआर पेश की हैं। चुनाव से पहले बीजेपी विधायक व उसके पति समेत अन्य लोगो पर अपराध प्रमाणित होने पर क्राइम ब्रांच ने आरोपीयों की गिरफ्तारी के लिए पूरी तैयारी कर ली हैं।

• जानें क्या हैं पूरा माजरा
पुलिस के मुताबिक बीस फरवरी 2018 को बीजेपी विधायक अपने कार्यकतार्ओं व पति के साथ महावीर नगर थाने पहुंची थी। बीजेपी विधायक का आरोप है कि पुलिस बीजेपी कार्यकर्ताओ पर झूठे आरोप लगाकर मारपीट कर थाने में बंद कर दिया है। थाने में ही बहस होने पर विधायक के पति ने तत्कालीन महावीर नगर एसएचओ श्रीराम बडेसरा के थप्पड़ मार दिया। इस पर पुलिसकर्मी गुस्से में आए और विधायक पति समेत अन्य कार्यकतार्ओं की जमकर धुनाई कर डाली। बाद में विधायक चन्द्रकांता ने प्रशिक्षु आईपीएस चूना राम व सीआई समेत अन्य पुलिसकर्मियो के खिलाफ मारपीट व अभद्रता का मामला दर्ज करवाया था। विधायक के पति द्वारा वर्दीधारी एसएचओं के थप्पड़ मारने का वीड़ियो वायरल होने के बाद पुलिस की तरफ से भी विधायक, उसके पति, समेत अन्य लोगो के खिलाफ क्रास केस दर्ज करवाया था। राजनेता से मामला जुड़ा होने के बाद दोनो मामले सीआईडी सीबी में स्थांतरीत हो गए। सीआईडी ने इस संबंध में पुलिस के अलावा विधायक के बयान भी दर्ज लेकर जांच शुरू की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here