विधानसभा चुनावो में एक दूसरे के सामने उतरे पति-पत्नी, चर्चा में है ये सीट

0
249

जयपुर: राजस्थान में विधानसभा की 200 सीटों के लिए अब तक करीब 3295 उम्मीदवारों ने अपना नामांकन दाखिल कर दिया है। इनमें दो उम्मीदवार स्वरूप चंद गहलोत (55) और मंजूलता गहलोत (52) भी हैं जिनका आपसी रिश्ता पति-पत्नी का है। दिलचस्प बात यह है कि ये दोनों एक ही सीट से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में एक-दूसरे के आमने-सामने हैं। दोनों ने बीकानेर-पूर्व सीट से पर्चा भरा है। लोगों में यह जोड़ी चर्चा का विषय बनी हुई है। इस संबंध में स्वरूप चंद गहलौत ने कहा कि मैं 2013 में भी स्वतंत्र उम्मीदवार के रूप में चुनाव लडा था। उस दौरान मैं अपने चुनाव प्रचार में व्यस्त था, वहीं मेरी पत्नी मेरे घर में रहीं। इसलिए हमलोगों ने यह तय किया हम दोनों चुनाव लडेंगे।

करते है मदत– एक दूसरे के विरोधी उम्मीदवार होने के बाद भी वह एक दूसरे को बहुत मदद करते हैं। स्वरूप चंद का कहना है कि अगर उनकी पत्नी चुनाव जीतती हैं तो वो उनकी मदद करेंगे और अगर मैं चुनाव जीतता हूं तो वो मेरी मदद करेंगी। पति-पत्नी का आमने सामने चुनाव लडना लोगों का ध्यान अपनी ओर खींच रहा है।

ये है वजह– स्वरूप चंद ने बताया कि आखिर क्यों उनकी पत्नी चुनावी मैदान में उतरी हैं। उन्होंने बताया कि वह साल 2013 के विधानसभा चुनाव में भी निर्दलीय चुनाव लड़ा था। इस दौरान मैं प्रचार के लिए चला जाता था और वह घर पर अकेली रह जाती थी। इसलिए इस बार उन्होंने भी चुनाव लड़ने का फैसला लिया है और नामांकन दाखिल किया है। मंजूलता गहलोत का कहना है कि मैं घर पर अकेली रहती थी और मेरी सेहत भी सही नहीं रहती है। इसलिए फैसला लिया कि मैं भी चुनाव लडूंगी और इस तरह हम दोनों साथ रह सकेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here