राजस्थान में 4 बजे तक 56.75 फीसद मतदान, ईवीएम खराब होने की शिकायतें

0
65

जयपुर। राजस्थान में लोकसभा चुनाव 2019 के दूसरे और आखिरी चरण की 12 सीटों के लिए सोमवार को कड़ी सुरक्षा के बीच मतदान हुआ। राजस्थान में 4 बजे तक 56.75 फीसद मतदान हुआ। एक बजे तक 41.96  फीसद मतदान हुआ है। 11 बजे तक 29.37 फीसद मतदान हुआ। सुबह नौ बजे तक 13.34 फीसद मतदान हुआ है। केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ और उनकी पत्नी गायत्री ने जयपुर के वैशाली नगर स्थित टीपीएस स्कूल में मतदान किया। एनडीए प्रत्याशी हनुमान बेनीवाल ने पैतृक गांव बरणगांव में वोट डाला। अनूपगढ़ में दूल्हे भूपेंद्र सिंह ने विवाह से पहले मतदान किया।मतदान के बाद बारात को रवाना किया गया। राजस्थान में लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण के तहत सोमवार को 12 सीटों पर मतदान हुआ। सभी 12 सीटों पर कुल 134 उम्मीदवार मैदान में थे। इनमें  68 निर्दलीय प्रत्याशी शामिल थे।

ज्यादातार सीटों पर सुबह से ही पोलिंग बूथों पर वोटर्स की भीड़ दिखी। मतदान केंद्र पर लोगों की खासी भीड़ रही। जिन 12 लोकसभा सीटों पर मतदान हुआ, उनमें पहले दो घंटे में दौसा में 14.40, नागौर में 13.92, गंगानगर में 15.18, बीकानेर मे 12.94, चुरू में 13.45, झुंझुनू में 11.97ं, सीकर में 13.52, जयपुर ग्रामीण में 14.16, जयपुर शहर में 13.71, अलवर में 13.09, भरतपुर में 13.75 और करौली धौलपुर में 13.76 फीसद मतदान हुआ। इन 12 सीटों पर करीब दो करोड़ 30 लाख 68 हजार से ज्यादा मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

दिग्गजों ने सुबह ही मतदान किया: पांचवें चरण के चुनाव में प्रदेश के ज्याादातर दिग्गजों ने सुबह ही मतदान किया। बीकानेर से प्रत्याशी अर्जुनराम मेघवाल, नागौश्र से प्रत्याशी हनुमान बेनीवाल, जयपुर से प्रत्याशी रामचरण बोहरा, और ज्योति खण्डेलवाल, जयपुर ग्रामीण से प्रत्याशी राज्यवर्धन सिंह राठौड, झुंझुनूं से प्रत्याशी श्रवण कुमार, अलवर से प्रत्याशी जितेन्द्र सिंह आदि ने अपना वोट डाला। मुख्य निर्वाचन अधिकारी आनंद कुमार, मुख्य सचिव डीबी, गुप्ता, पुलिस महानिदेशक कपिल गर्ग ने भी अपना वोट डाला।

दो घंटे में करीब 16 फीसद मतदान: लोकसभा चुनाव में राजस्थान के दूसरे और अंतिम चरण के लिए मतदाता उत्साह से दिखे। गर्मी तेज होने के कारण सुबह सात बजे से ही मतदान केंद्रों  पर मतदाताओं की लंबी कतारें लग गईं। पहले दो घंटे में प्रदेश में 16.34 फीसद मतदान हुआ।

ईवीएम खराब होने की शिकायतें: लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में प्रदेश में चल रहे मतदान के दौरान कई केंद्रों पर ईवीएम खराब रही। ईवीएम में आई इन तकनीकी खामियों के चलते कई पोलिंग बूथों पर निर्धारित समय पर मतदान शुरू नहीं हुआ। अलवर के बहरोड़ में बूथ नंबर 29, 68, 71, 84,102 और 130 की वीवीपेट मशीन खराब हो गई। इस पर वहां दूसरी वीवीपेट मशीन भेजी गई। जिसके चलते कुछ देर लिए वहां मतदान रुका रहा। करौली में मतदान केंद्र संख्या 140 पर ईवीएम खराब होने से मतदाताओं का इंतजार करना पड़ा। वहां मतदाताओं ने पीठासीन अधिकारी पर देरी मतदान शुरू करवाने का आरोप लगाया। भरतपुर के डीग कुम्हेर विधानसभा क्षेत्र में डहवा बूथ पर ईवीएम खराब होने के कारण वहां एक घंटे तक मतदान शुरू नहीं हो पाया।

अलवर में काली मोरी स्थित पोलिंग बूथ नंबर 177 पर ईवीएम खराब होने के कारण वहां उसे बदला गया। झुंझुनूं में उदयपुरवाटी विधानसभा क्षेत्र में बूथ संख्या 179 पर भी ईवीएम खराब होने के कारण वोटिंग आधा घंटे देरी से शुरू हो पाई। राजधानी जयपुर में बीजेपी मुख्यालय पर बनाए गए वॉर रूम के मुताबिक, लगभग 40 स्थानों से ईवीएम खराब होने की है सूचना मिली। जयपुर ग्रामीण लोकसभा क्षेत्र में भी एक केंद्र पर वीवीपेट मशीन खराब होने के कारण यहां बीजेपी प्रत्याशी राज्यवर्धन सिंह राठौड़ को भी इंतजार करना पड़ा। करौली के सायपुर बूथ नंबर 101 पर मतदाताओं ने बीएलओ पर वोटर पर्ची नहीं बांटने का आरोप लगाते हुए वहां हंगामा कर दिया।मतदाताओं ने व्यवस्थाओं पर नाराजगी जताई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here