बूंदी: प्रकृति को जीवंत करती चित्र शैली एवं कौशल विकास प्रशिक्षण के विशेष सत्र का आयोजन

0
39

जितेन्द्र वर्मा@बून्दी। राजस्थान राज्य भारत स्काउट गाइड बूंदी द्वारा कौशल विकास केंद्र में बालक बालिकाएं महिलाएं विभिन्न प्रकार के प्रशिक्षण प्राप्त कर रही है। बुधवार को अभिरुचि प्रशिक्षण केंद्र पर बूंदी पेंटिंग पर विशेष सत्र का आयोजन किया गया ।

बून्दी शैली पर आयोजित सत्र में मुख्य वार्ताकार बूंदी शैली से दो दशक से आयाम दे रहे चित्रकार युग प्रसाद थे। युग ने बूंदी चित्रकला शैली के इतिहास, विशेषताएं व कलात्मकता पर प्रकाश डालते हुए बताया कि कौशल विकास एवं अभिरुचि केंद्र में बून्दी पेंटिंग का प्रशिक्षण का नवाचार सराहनीय है। बून्दी शैली प्रकृति को जीवंत करती है,अभिरुचि शिविर में बूंदी शैली पेंटिंग को सीखने का सँभागियों को सुनहरा अवसर मिलेगा। इस अवसर पर युग प्रसाद ने पेंटिंग की बारीकियों को भी बताया ।

सीओ स्काउट गिरिराज गर्ग ने बताया कि अभिरुचि शिविर में अमित राय द्वारा कत्थक, सुनील सैनी संगीत, रंजना झा व पूर्वी जानी कुकिंग, संदीप नामा स्पोकन इंग्लिश, आसिफा तस्लीम व माया शर्मा आर्ट एंड क्राफ्ट, हेमंत बृजवासी डांस, तरुण भटनागर कार्ड मेकिंग, उषा चतुर्वेदी पोट डेकोरेशन, ज्योति दुआ व खुशबू नरूका हैंडीक्राफ्ट व विजयलक्ष्मी द्वारा कैलीग्राफी का प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

अभिरुचि केंद्र पर नन्हे नन्हे बालक बालिकाओं सहित महिलाएं भी विशेष रुचि ले रहे हैं । आयोजन प्रभारी विश्वजीत जोशी के अनुसार शिविर के दौरान पर्सनालिटी डेवलपमेंट, योग, प्राणायाम, पर्यटन, गृह सज्जा, शैक्षणिक भ्रमण सहित प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here